वाराणसी : प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के बढ़ावे के लिए कमिश्नर ने प्रचार वाहनों को किया रवाना

वाराणसी। कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने किसान बंधुओं को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की जानकारी देने के साथ ही उन्हें बीमा कराने के लिए प्रेरित किए जाने के उद्देश्य से बुधवार को अपने कैंप कार्यालय से प्रचार वाहन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। उन्होंने बताया कि 2020-21 से 2022-23 कि खरीफ व रबी मौसम में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना जनपद में संचालित करने के लिए एचडीएफसी एरगो जनरल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड को नामित किया गया है। योजना अंतर्गत बीमित कृषकों को प्राकृतिक आपदा के कारण फसल नष्ट होने पर नियमानुसार छत्तिपूर्ति प्रदान किए जाने का प्रावधान है।

उन्होंने बताया कि प्रचार वाहन के माध्यम से मंडल के ग्रामों में योजना की जानकारी प्रदान कराते हुए कृषक भाइयों को योजना अंतर्गत बीमा कराने हेतु प्रेरित किया जाएगा। खरीफ मौसम में बीमा कराने के लिए 31 जुलाई तथा रबी मौसम में बीमा कराने हेतु 31 दिसंबर तक की तिथि निर्धारित की गई है।

इस संबंध में अखिलेश चंद्र शर्मा,संयुक्त कृषि निदेशक वाराणसी मंडल ने बताया कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत अगर किसी भी किसान की फसल बीमा कराने के बाद भूस्खलन, बिजली गिरने से या ओलावृष्टि से बरबाद होती है तो किसान को उसके फसल की पूरी क्षतिपूर्ती करी जाएगी। इसके लिए किसान को सरकार द्वारा जारी टोल फ्री नंबर 18002005142, 18002005142 पर 72 घंटे के अंदर फसल खराब होने की जानकारी फोन पर देनी होगी। इसके बाद कृषि विभाग की टीम मौके पर जाकर फसल का सर्वेक्षण करेगी। उसकी रिपोर्ट के आधारा पर किसानों को क्षतिपूर्ति की जाएगी। मनुष्य द्वारा निर्मित आपदाओं जैसे आग लगना, चोरी होना, सेंध लगना आदि को इस योजना के अन्तर्गत शामिल नहीं किया जाता है।

इसके साथ ही अगर किसानो को किसी वजह से उसकी फसल के उपज में कमी आती है तो उसके लिए पिछले सात वर्ष का जो राजस्व विभाग के आकड़ें हैं उसके अनुसार उपज में जो कमी आती है उसका मुआवजा दिया जाता है।

प्रचार प्रसार के लिए शुरु किये गए तीनों वाहनों में से एक वाराणसी जनपद के चार जिलों के किसानों में पीएम फसल बीमा योजना का प्रसार करेगा। इसी तरह मिर्जापुर मण्डल के तीन जिले और बलिया में भी यह लाउडस्पीकर के माध्यम से किसानों को इस बीमा योजना के बारे में जानकारी दी जाएगी।