कोरोना संक्रमित मरीजों को उनकी इच्छा और सहमति पर होम आइसोलेशन कार्य में ना हो जरा सा भी विलंब- कमिश्नर दीपक अग्रवाल

वाराणसी। कमिश्नर दीपक ने अग्रवाल बुधवार को कमिश्नरी स्थित अपने सभागार में कोविड मरीजो के होम आइसोलेशन के नियमों एवं व्यवस्थाओं को सुचारु रुप से लागू किए जाने आदि व्यवस्था के संबंध में अधिकारियों के साथ बैठक की, जिसमें उन्होंने विशेष रूप से जोर देते हुए कहा कि कोविड मरीजों को होम आइसोलेशन की अनुमति देने में कतई विलंब न होने पाए और मुख्य चिकित्सा अधिकारी रोजाना अपने स्तर से इसकी व्यक्तिगत रूप से समीक्षा करें।

निजी नर्सिंग होम द्वारा एंबुलेंस की उपलब्धता न कराए जाने पर उनके लाइसेंस होंगे निरस्त
उन्होंने कोविड के सैंपलिग की गति बढ़ाए जाने पर विशेष जोर देते हुए श्री शिव प्रसाद गुप्त चिकित्सालय में स्थापित आरटीपीसीआर मशीन से अपेक्षाकृत कम कोविड जांच होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए इसमें गति बढ़ाई जाने पर विशेष जोर दिया। कोविड मरीजों के लिए निजी चिकित्सालयों के अधिग्रहित किए गए एंबुलेंस की उपलब्धता कतिपय निजी चिकित्सालयों द्वारा न कराए जाने की जानकारी पर नाराजगी व्यक्त करते हुए उन्होंने ऐसे निजी नर्सिंग होमो को चिन्हित कर का लाइसेंस निरस्त किए जाने की मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिया।

कोविड मृतकों की निर्धारित प्रोटोकॉल के तहत हो दाह संस्कार
कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने कोरोना मरीजों के कांट्रैक्ट ट्रेसिंग के लोगों तथा उनके संबंधियों का कोरोना सैंपलिग अभियान चलाकर कराए जाने का निर्देश देते हुए कहा कि इसमें किसी भी प्रकार की शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कोविड के मृतको के शरीर का निर्धारित प्रोटोकॉल के तहत दाह संस्कार कराए जाने पर विशेष जोर देते हुए निर्देशित किया कि नगर निगम के भेलूपुर जोन के जोनल अधिकारी तथा स्वास्थ्य विभाग के प्रशासनिक अधिकारी आपसी समन्वय स्थापित कर इस कार्य को व्यक्तिगत रूचि लेकर कराएं।

प्रतिदिन होम आइसोलेशन का डाटा कलेक्ट किया जाय
वहीं जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने जोर देते हुए कहा कि होम आइसोलेशन का कार्य शुरू हो चुका है। अब ज्यादा से ज्यादा कोविड मरीज होम आइसोलेशन के लिए इच्छुक होंगे। ऐसे में मेडिकल ऑफिसर के नेतृत्व में गठित टीम इच्छुक कोविड मरीज के घर जाकर आवश्यक व्यवस्थाओं का निरीक्षण करें और आवश्यक सभी व्यवस्थाओ का मौके पर उपलब्धता के आधार पर तत्काल मौके पर ही मरीज को होम आइसोलेशन की अनुमति प्रदान करें। उन्होंने प्रतिदिन होम आइसोलेशन का डाटा कलेक्ट किए जाने पर विशेष जोर दिया। बताया गया कि शहरी क्षेत्र के 24 तथा ग्रामीण क्षेत्र के 8 स्वास्थ्य केंद्रों द्वारा यह डाटा रोजाना उपलब्ध कराया जाएगा।

कमिश्नर दीपक अग्रवाल में कोविड संक्रमित मरीजों को उनकी इच्छा एवं सहमति पर कराए जाने वाले होम आइसोलेशन कार्य में कतई विलंब न किए जाने पर विशेष जोर दिया। उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि होम आइसोलेशन के इच्छुक मरीजों के घरों का मेडिकल ऑफिसर के नेतृत्व में गठित टीम संबंधित मरीज के घर पर जाकर मरीज के लिए उसके घर में अलग से कमरा, अलग से शौचालय, मरीज के लिए उपलब्ध होने वाला अटेंडेंट तथा उसके पास मेडिकल किट की उपलब्धता के साथ-साथ की मरीज के स्थिति का निरीक्षण एवं जांच कर मौके पर ही अनुमति प्रदान करें।

बैठक में जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा, एसएसपी अमित पाठक, मुख्य विकास अधिकारी मधुसूदन हुलगी, सभी अपर जिला मजिस्ट्रेट, सभी डिप्टी कलेक्टर, अपर निदेशक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक एसएसपीजी सहित कोविड कार्य के लिए नामित सभी नोडल अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहें।