सावन के अंतिम सोमवार को महादेव के दरबार में उमड़े भक्त, गोदौलिया तक लगी कतार

वाराणसी। कोरोना महामारी के दौरान सावन के पवित्र माह में इस वर्ष काशी में भक्तों का रेला देखने को नहीं मिला पर सावन के आखरी सोमवार को पड़े रक्षाबंधन पर्व पर भक्तों की कतार महादेव के दर्शन के लिए देखी गयी। मंगला आरती के बाद बाबा विश्वनाथ का दर्शन करने के लिए भक्त उमड़े। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए भक्तों ने महादेव का सावन के अंतिम दिन झांकी दर्शन के साथ ही साथ जलाभिषेक भी किया।

इस वर्ष पड़े सावन के चार सोमवारों में अंतिम सोमवार को महादेव का दर्शन करने के लिए श्रद्धालु आतुर दिखे। कोरोना काल में सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क और सेनीटाइजर के साथ ही साथ थर्मल स्कैनिंग की प्रक्रिया से गुज़र कर भक्तों ने महादेव के दर्शन किए।

छत्ताद्वार के बाद अपनी बारी की प्रतीक्षा कर रही महिला प्रतिमा उपाध्याय ने बताया कि आज सावन का चौथा सोमवार है और ऐसा संयोग कई वर्ष बाद पड़ता है जब सावन का चौथा सोमवार, रक्षाबंधन पर्व एक ही दिन पड़े। ऐसे में महादेव का दर्शन का आज हम सभी देश से कोरोना के खात्मे कि प्रार्थना करेंगे।

देखिये तस्वीरें 

??????