शिव की काशी में हिन्दू मुस्लिम मिलकर कर रहे हैं रामचरितमानस का पाठ, राम मंदिर निर्माण से हर्ष का माहौल

वाराणसी। श्रीराम जन्म भूमि मंदिर के लिए 5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भूमि पूजन करेंगे। इसके लिए अयोध्या को सजाया संवारा जा रहा है वहीं दूसरी तरह अड़भंगी भोले की नगरी काशी में भगवान् शिव के भक्त श्रीराम के मंदिर बनने की ख़ुशी में रामचरित मानस का पाठ कर रहे हैं। जनपद के लमही स्थिति विशाल भारत संस्था के प्रांगण में हिन्दू मुस्लिम बहनें मिलकर रामचरितमानस का पाठ कर रही हैं और अपने पूर्वज के मंदिर निर्माण पर हर्ष ज़ाहिर कर रही हैं।

महिलाओं से घिरी बुर्का ओढ़े ये महिला हैं मुस्लिम महिला फाउंडेशन की नेशनल सदर नाज़नीन अंसारी जो रामचरित मानस का पाठ बखूबी कर रहीं हैं। ये रामचरितमानस के पाठ के साथ साथ यहाँ उपस्थित लोगों को उसका भावार्थ भी बता रही हैं।

नाज़नीन अंसारी ने बताया कि हम सभी हिन्दू मुस्लिम महिलाएं रामचरितमानस का पाठ कर रही हैं। यह पाठ 5 अगस्त तक अनवरत जारी रहेगा। नाज़नीन ने बताया कि यह बहुत ही ख़ुशी की बात है कि हमारे पूर्वज भगवान् श्री राम का मंदिर अब बनेगा और उसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 अगस्त को अयोध्या में भूमि पूजन करेंगे। यह हर्ष का विषय है कि वर्षों का इंतज़ार अब ख़त्म होने जा रहा है।

रामचरित मानस के पाठ में मौजूद ईली भारतवंशी ने बताया कि यह उल्लास और हर्ष का विषय है कि हमारे आराध्य भगवान् श्रीराम का मंदिर बनने जा रहा है। हम सभी उस काशी में रहते हैं जिसके प्रभु महादेव के आराध्य हैं श्रीराम ऐसे में हम लोग 5 अगस्त को काशी को राममय कर देंगे अपने इस रामचरित मानस के पाठ से।

देखें वीडियो