घर बंद कर भाई के दसवें में गयी थी बहन, 10 लाख से अधिक की हुई चोरी, पुलिस कर रही जांच

वाराणसी। शहर के आदमपुर थानाक्षेत्र के कोनिया सट्टी निवासी छोटेलाल सोनकर के घर में चोरों ने लाखों के आभूषण सहित 1 लाख 75 हज़ार नगद पर हांथ साफ़ कर दिया। छोटेलाल सोनकर रविवार को अपने साले के दसवें में शामिल होने गए थे। पत्नी पहले से वहां मौजूद थी। सुबह ग्फ्हर पहुंचे तो मकान का ताला टूटा हुआ था। भुक्तभोगी घर में ही जनरल स्टोर चलाता है। फिलहाल घटना की सूचना पर काफी देर बाद पहुंची आदमपुर पुलिस घटना की जांच कर रही है। भुक्तभोगी वार्ड नंबर 8 के भाजपा पार्षद विजय सोनकर के चचेरे भाई हैं।

इस सम्बन्ध में छोटेलाल सोनकर की पत्नी प्रभा सोनकर ने बताया कि मेरे भाई राजू का दसवां था मेरे सिगरा स्थित मकान पर। हम अपने भाई की मौत के बाद से वहीँ थे कल दसवां था उसका तो हमरे पति भी शाम में सिगरा चले आये थे। आज हम लोग वापस सुबह आये तो देखा मकान का ताला टूटा हुआ था, जब घर के अंदर गये तो देखा कमरे और जनरल स्टोर व चाय पान दुकान के दरवाजे का डणहरा को किसी राड को डाल कर चाडने के बाद दरवाजे को खोला और आराम से घर में चोरी की।

प्रभा ने बताया कि चोरों ने कमरे में दो गोदरेज की अलमारी का ताला तोड़ने के बाद लाकर मे रखे चांदी के 5 जोडा पायजेब ,40 जोड़ा हाथ कड़ा बचकानी ,1 करधनी, 3 हाफ करधनी 3 जोड़ा पायल बचकानी, 8 करधनी बचकानी, 2 जोड़ा पैर का छड़ा बचकानी, 1 जोड़ा हाथ का पंजा, 2 जोड़ा झुमका सोने का, 2 जोड़ टप्स सोने का, 2 लौग सोने का, 1 नथ सोने का, 1 हार सोनेका, 2 चेन सोने का, 5अंगूठी सोने का, 1 लॉकेट सोने का, 2 मंगलसूत्र सोने का, 2 सिकडी बचकानी सोने का, 7 कलाई घड़ी को चोरों ने चुरा लिया है।

छोटेलाल सोनकर की सूचना पर काफी देर में पुलिस पहुंची। पुलिस को छोटेलाल ने बताया कि बहनोई की मौत के बाद भांजी की सारी ज़िम्मेदारी मेरी थी और उसी के लिए सामान इकट्ठा कर रहे थे। फिलहाल पुलिस भुक्तभोगी से पूछताछ कर जांच में लग गयी है।