लंका लूट प्रकरण में कर्मचारी ही निकला मास्टरमाइंड, पुलि‍स ने बरामद कि‍ये पूरे 9 लाख रुपये

वाराणसी। दिनांक 20 जुलाई 2020 को थाना लंका क्षेत्र अन्तर्गत पशु आहार महादेव फर्म के मालिक बृजेश यादव के मुनिम गुलाब यादव व नारायण राजभर से ट्रामा तिराहे पर हुई 9 लाख रुपये लूट का थाना लंका पुलिस द्वारा पर्दाफाश कर दि‍या गया है। पुलि‍स ने इस मामले में 4 आरोपी लुटेरों गिरफ्तार कि‍या है। इनके कब्जे से पुलि‍स ने लूट के 9 लाख रुपये, 2 तमन्चा, 4 जिन्दा कारतूस, 4 मोबाईल फोन और घटना में प्रयोग की गयी 2 मोटरसाईकिल बरामद कि‍या है।

गुरुवार देर शाम वाराणसी के एसएसपी अमि‍त पाठक ने रायफल क्‍लब सभागार में मीडि‍या के सामने सभी चारों आरोपी लुटेरों को पेश कि‍या है। पुलि‍स के अनुसार इस लूट के सम्बन्ध में थाना लंका पर मुकदमा अपराध संख्‍या 449/2020 धारा 392 आईपीसी के तहत दर्ज कि‍या गया था।

 

इस घटना के खुलासे के लि‍ये वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के आदेश पर, पुलिस अधीक्षक (नगर) व पुलिस अधीक्षक (अपराध) के नि‍र्देशन और सीओ भेलूपुर के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी लंका की टीम व स्वाट टीम गठित कर के सुरागरसी की जा रही थी। इसी दौरान मुखबिर की सूचना पर गुरुवार को लौटूवीर बाबा पुलिया के पास से 4 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया गया।

पूछताछ के दौरान पकड़े गये आरोपि‍यों ने बताया कि‍ अक्षय उर्फ रोहित यादव आईपीएल में 20 हजार रुपया हार गया था, इस सम्बन्ध में उसने अपने मित्र विशाल पाल से कहा कि मुझे रुपयो की बहुत अधिक आवश्यकता है। इस पर विशाल ने कहा मैं अपने पड़ोसी बृजेश यादव का रुपया पांच छह बार रथयात्र स्थित कुबेर काम्प्लेक्स में पहुंचा चुका हूं।

हर बार ये रकम पांच से छह लाख रुपये होती है। यदि साजि‍श रचकर उसका पैसा लूट लिया जाये तो काफी रुपया मिल सकता है। साजि‍श के अनुसार 20 जुलाई को जैसे ही बृजेश यादव ने अपने मुनिम व नौकर को रुपया देकर भेजा वैसे ही विशाल पाल व सूरज ने इसकी सूचना अपने साथी रोहित अक्षय उर्फ रोहित यादव व शिवलाल पाल को दे दी तथा खुद भी यादव भवन के पास आ गया। अक्षय व शिवलाल पाल ने यादव भवन के पास अपनी मोटर साइकिल पैशन प्रो खड़ी करके बीएच यू कैम्पस से चोरी किये गये अपाचे पर सवार होकर ट्रामा सेन्टर तिराहे के पास आकर पैसा ले जा रहे मुनिम व नौकर की मोटर साइकिल में टक्कर मारकर दूध के बाल्टे में रखा पैसा छिनकर भाग गये और रास्ते में अपना कपड़ा बदल लिया तथा आपस में तीन तीन लाख रुपया अक्षय उर्फ रोहित यादव एवं शिवलाल पाल ने ले लिया जबकि अपने साथी विशाल पाल व अजय उर्फ सूरज यादव को डेढ़ डेढ़ लाख रुपया दे दिया एवं अपाचे की मोटर साइकिल छित्तुपुर खड़ी करके वही पर प्लास्टिक के दूध के बाल्टा को पेट्रोल डालकर जला दिया।

वहां से पैदल आकर अपनी पहले से खड़ी मोटर साइकिल पैशन प्रो लेकर चले गये।

गिरफ्तार कि‍ये गये अभियुक्त

1.शिवलाल पाल पुत्र राजाराम पाल निवासी छित्तुपुर थाना लंका उम्र 20 वर्ष 

2.अक्षय उर्फ रोहित यादव पुत्र बाबूलाल यादव निवासी सिरगोर्धनपुर उम्र 19 वर्ष

3.विशाल पाल पुत्र सट्टर पाल निवासी नैपुराकला थाना लंका वाराणसी उम्र 20 वर्ष

4.अजय उर्फ सूरज यादव पुत्र दशरथ प्रसाद यादव निवासी नैपुराकला थाना लंका वाराणसी उम्र 19 वर्ष

गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक थाना लंका महेश पाण्डेय, सब इंस्‍पेक्‍टर अश्वनी कुमार पाण्डेय स्वाट टीम प्रभारी, सब इंस्‍पेक्‍टर उपेन्द्र यादव थाना लंका, सब इंस्‍पेक्‍टर प्रदीप यादव स्वाट टीम, सब इंस्‍पेक्‍टर शशि प्रताप सिंह थाना लंका, सब इंस्‍पेक्‍टर अरुण प्रताप सिंह स्वाट टीम, सब इंस्‍पेक्‍टर रवि यादव थाना भेलूपुर, हेड कांस्‍टेबल पुनदेव सिंह स्वाट टीम, हेड कांस्‍टेबल नागेन्द्र यादव, हेड कांस्‍टेबल घनश्याम वर्मा स्वाट टीम, कांस्‍टेबल बन्टी सिंह, कांस्‍टेबल चन्द्रसेन सिंह स्वाट टीम, कांस्‍टेबल मनीष कुमार यादव, कांस्‍टेबल रामबाबू स्वाट टीम, कांस्‍टेबल, कांस्‍टेबल अमित सिंह, कांस्‍टेबल अनूप कुशवाहा स्वाट टीम, कांस्‍टेबल भानू प्रताप सिंह, कांस्‍टेबल शिवबाबू स्वाट टीम, कांस्‍टेबल मुत्युन्जय सिंह स्वाट टीम, कांस्‍टेबल नीरज मौर्या स्वाट टीम, कांस्‍टेबल वीरेन्द्र यादव स्वाट टीम शामि‍ल रहे।

देखें वीडियो