निजीकरण के विरोध में अब रोडवेज कर्मियों ने खोला मोर्चा, किया प्रदर्शन

Roadways workers protest now against privatization

वाराणसी। शहर के चौधरी चरण सिंह इंटरनेशनल रोडवेज़ पर बुधवार को रोडवेज कर्मियों ने निजीकरण के विरोध में जमकर प्रदर्शन किया। इस दौरान रोडवेज कर्मी महामारी एक्ट का उल्लंघन करते भी दिखे और सोशल डिस्टेंसिंग नदारद दिखी। उत्तर प्रदेश परिवहन निगम के कर्मचारियों ने साफ़ लहजे में कहा कि किसी भी कीमत पर हम निजीकरण नहीं लागू होने देंगे। इसके लिए जितना संघर्ष करना होगा हम करेंगे।

प्रदर्शन कर रहे रोडवेज कर्मी इंद्रेश मिश्रा ने बताया कि आज हम सभी ने निजीकरण का विरोध करते हुए क्षेत्रीय प्रबंधक के माध्यम से एक मनाग पत्र मुख्यमंत्री को भेजा है। इंद्रेश ने बताया कि प्रदेश सरकार केंद्र सरकार की तरह अब परिवहन निगम को निजी हांथों में सौंपना चाहती है। उन्होंने रोडवेज और इसकी बसों को अपने खून पसीने से सींचा हैं। हम इसका निजीकरण नहीं होने देंगे।

इसके अलावा सभी रोडवेज कर्मियों ने एकजुटता दिखाते हुए उत्तर प्रदेश परिवहन निगम का निजीकरण और निजी बस संचालकों की मिलीभगत से राष्ट्रीयकृत मार्गों पर प्राइवेट बसों को परमिट दिए जाने का विरोध किया।

देखें वीडियो